एबीसीडी 2 फिल्म वॉलपेपर

एबीसीडी 2 सेलिब्रिटीज

Varun Dhawan , Shraddha Kapoor , Prabhu Deva, Lauren Gottlieb


एबीसीडी 2 डांस के लिए पैर थिरकाने पर मजबूर करती एक कमजोर कहानी वाली फिल्म 


कुछ अनजाने और कम प्रसिद्ध चेहरों के साथ रेमो डी सूजा ने 2013 में अपनी पहली फिल्म एबीसीडी रिलीज की थी। एबीसीडी फिल्म को लोगो ने काफी सराहा था और ये फिल्म हिट भी रही थी। रेमो डीसूजा अब 2015 में इस फिल्म का दूसरा भाग एबीसीडी 2 लेकर आये है और इस बार उनकी फिल्म में बॉलीवुड के सबसे चर्चित युवा चेहरे वरुण धवन और श्रद्धा कपूर भी है।





निर्देशक रेमो डीसूजा ने एबीसीडी 2 को थ्री डी में बनाया है और इस फिल्म को देखने के बाद फिल्म के कुछ-कुछ सीन अमेरिकी हिट डांस फिल्म स्टेप अप की याद दिलाते है। एबीसीडी 2 फिल्म डांस के विषय पर बनी फिल्म है इसलिए इस फिल्म में आपको अच्छे अच्छे डांस स्टेप देखने को मिलेंगे। डांस के अलावा फिल्म में और क्या-क्या है जानने के लिए एबीसीडी 2 फिल्म का पूरा रिव्यू पढ़ें।





एबीसीडी 2 फिल्म की पूरी कहानी : फिल्म की कहानी की बात करे तो यह ही फिल्म का सबसे कमजोर भाग है। अगर हम सच कहे तो नृत्य दृश्यों के अलावा फिल्म की अपनी कोई खास कहानी नही है। फिल्म की पूरी कहानी नालासोपारा के डांस ग्रुप लीडर सुरु (जो फिल्म में वरुण धवन बने है) और विन्नी (जिस किरदार को श्रद्धा कपूर निभा रही है) के आस-पास ही घुमती है। सुरु और विन्नी अपने डांस ग्रुप के साथ लोकल डांस प्रतियोगता में भाग लेते है जहाँ पर उन्हें नकल करने के आरोप में बाहर कर दिया जाता है जिस कारण डांस ग्रुप के सभी सदस्य निराश हो जाते है और मुंबई में उनकी काफी फजीहत भी होती है। इन घटनाओ के बाद फिल्म में डांस टीचर विष्णु (जो प्रभु देवा है) की एंट्री होती है जिसे सुरु और बाकी डांसर बड़ी मुश्किल से कोचिंग के लिए राजी करते है। विष्णु के राजी होने के बाद ये डांस ग्रुप निराशा से बाहर आ जाता है और विदेश में एक डांस प्रतियोगिता में भाग लेने का मन बनाता है। फिल्म के पहले भाग में इतना ही है और एबीसीडी 2 फिल्म के दूसरे भाग की कहानी इंडिया से निकल कर विदेश धरती लॉस वेगस पर चली जाती है। लॉस वेगस में चलने वाली कहानी में डांस रियलिटी शो विश्व हिप हॉप चैम्पियनशिप में भाग लेने विष्णु का राज खोलने के दृश्य है। इस दुसरे पार्ट की कहानी का अंत हार जीत का ऐलान और इमोशन के दृश्यों के साथ ही हो जाता है।





एबीसीडी 2 फिल्म में एक्टिंग : फिल्म डांस रियलिटी शो और नृत्य मंडली पर आधारित है इसलिए फिल्म में जो कुछ भी है वो एक डांस रूप में ही है। फिल्म में वरुण धवन ने कुछ अच्छे इमोशनल और एनर्जी वाले सीन किये है पर ये सभी दृश्य डांस मूव में ही है। फिल्म की कोई कहानी ना होने के कारण वरुण धवन और श्रद्धा कपूर के पास भी डांस करने के अलावा कुछ नही था इसलिए इन दोनों कलाकारों ने भी जो भी एक्टिंग की है डांस के जरिये ही की है। फिल्म में श्रद्धा कपूर के कुछ डांस मूव इतने अच्छे है जिनको देखकर दर्शक हैरान हो जायेंगे। इन दोनों कलाकारों के अलावा लॉरेन गॉटलिब फिल्म में काफी जबरजस्त लगी है। लॉरेन गॉटलिब ने छोटे से रोल में भी खुद को अच्छे से साबित किया है। फिल्म में उनकी एंट्री काफी धमाकेदार अंदाज में होती है। लॉरेन ने अपने डांस मूव और अपने सेक्सी बदन से दर्शको को काफी प्रभावित किया है। फिल्म में प्रभुदेवा की एंट्री की बात छोड़ दे तो उनकी एक्टिंग कुछ खास नही है।




एबीसीडी 2 फिल्म में निर्देशन : रेमो दुनिया के अच्छे कोरियोग्राफर में से है इसमे कोई शक नही है। फिल्म में उन्होंने कमाल की कोरियोग्राफी की है पर बात अगर निर्देशन की करे तो वह इस फिल्म में कामयाब नही हुए है। रेमो ने वरुण और श्रद्धा कपूर को फिल्म में रख कर एक रोमांटिक और कामयाब जोड़ी को भुनाने की कोशिश की है पर उनकी यह कोशिश कायमाब नही हो पाई क्योकि वह फिल्म में इस जोड़ी के रोमांस को अच्छे से दिखा नही पाए है। रेमो डीसूजा ने फिल्म के कहानी पर भी ध्यान नही दिया तीसरी बड़ी गलती उन्होंने फिल्म की अवधि बढ़ा कर दी। फिल्म में दिखाए गये रियलिटी शो के कुछ सीन और कुछ जबरजस्ती के गाने काट कर फिल्म को आकर्षक बनाया जा सकता था। इसके अलावा रेमो ने प्रभु देवा को मनाने का दृश्य भी ज्यादा लंबा कर दिया है जिस कारण एबीसीडी 2 पहली फिल्म एबीसीडी की याद दिलाने लगती है। रेमो सर ने 3 डी इफेक्ट कमाल के लिए है इसके अलावा बड़े-बड़े आकर्षक सेट के जरिये भी फिल्म में जान डालने की कोशिश की गई है जिसमे रेमो को कुछ हद तक कामयाबी भी मिली है।








गीत संगीत
: एबीसीडी 2 फिल्म पूरी डांस पर फिल्माई गई है इसलिए दर्शक उम्मीद करते है कि फिल्म का गीत संगीत काफी अच्छा होगा जिसे अधिक समय तक लोग याद रखेंगे। अगर आप भी ऐसी ही उम्मीद लगा कर बैठे है तो यहाँ पर कुछ राहत महसूस कर सकते है। फिल्म में सुन साथियां,चुनर और बेजुबान फिर से जैसे अच्छे गीत है। इसके अलावा वंदे मातरम, गणेश जी की आरती दो ऐसे डांस गीत है जो आपके अंदर देशभक्ति और जूनून पैदा करने में कामयाब हो जाते है।




फिल्म क्यों न देखें : अगर आप वरुण धवन और श्रद्धा कपूर की रोमांटिक जोड़ी को पर्दे पर रोमांटिक फिल्म समझ कर देखने जा रहे है या फिर आप किसी जबरदस्त डांस कहानी की उम्मीद में जा रहे है तो आप सिनेमाघर जा रहे अपने मन को वापिस खीच ले।







क्यों देखें : अगर आपके दिल के किसी भी कोने में डांस छिपा है और वह अभी तक बाहर नही आया है तो आप यह फिल्म देखने जरुर जाये फिल्म के डांस मूव देखकर अन्यास ही आपके कदम डांस करने लगेगे।











एबीसीडी 2 फिल्म वीडियो

        

Comment Box

    User Opinion
    Your Name :
    E-mail :
    Comment :

Latest Movies Wallpapers