दिल धड़कने दो फिल्म वॉलपेपर

दिल धड़कने दो सेलिब्रिटीज

Anil Kapoor , Priyanka Chopra , Anushka Sharma , Ranveer Singh , Shefali Shah, Farhan Akhtar


समुंदरी और रिश्तों के बीच गोते खाती फिल्म है दिल धड़कने दो



जोया अख्तर की दिल धड़कने दो तीन घंटे की समुंदरी यात्रा पर निकली रिश्तों का ताना बना बुनती एक अच्छी पारिवारिक फिल्म है। जिन्दगी न मिलेगी दोबारा में यूवा जीवनशैली पर चोट करने के बाद जोया ने इस बार पारिवारिक जीवनशैली पर गहरी चोट की है। हिंदी सिनेमा के इतिहास में अपने माता-पिता से प्यार करने वाली बहुत सी फ़िल्में देखी होंगी पर अपने माता-पिता से नफरत करने और माता पिता द्वारा बच्चों को  अपने तरीके से बदलने के लिए मजबूर करने की प्रक्रिया को जाहिर करती ये पहली फिल्म है। जोया अख्तर ने दिल धड़कने दो में आधुनिक भाई बहनों के बीच प्यार को दर्शाने और सामने रखने में काफी सफल प्रयास किया है।





दिल धड़कने दो फिल्म की कहानी : दिल धड़कने दो फिल्म के शुरुआती दृश्य में घर के एक मुख्य सदस्य प्लूटो मेहरा को आमिर खान की आवाज के साथ दिखाया गया है जो पंजाबी मेहरा परिवार की आदतों और उनके व्यस्त जीवन की चर्चा करता है। प्लूटो मेहरा मेहरा परिवार का एक पालतू कुत्ता है और मेहरा परिवार की बागडोर कमल मेहरा के हाथ में है जिसका रोल अनिल कपूर निभा रहे है और शेफाली शाह नीलम मेहरा के रूप में उनकी बीवी बनी है। कमल मेहरा के दो बच्चे है जिसमे आयशा उनकी बेटी है जो फिल्म में प्रियंका चोपड़ा है और उनके भाई और कमल मेहरा के बेटे कबीर मेहरा का रोल रणवीर सिंह अदा कर रहे है।





कमल मेहरा वह आदमी है जिसने अपने दम पर दौलत शोहरत हासिल की है। उसका बिजसनेस धीरे-धीरे ध्वस्त हो रहा है जिस कारण कमल काफी गंभीर है और वह पूरी फिल्म में खुद के स्टेट्स सिंबल को लेकर काफी असुरक्षित रहता है। इसके अलावा वह परिवार के सभी फैसले खुद लेता है और अपने बच्चो ओर परिवार से अधिक समाज की फ़िक्र करता है जिस कारण वह बच्चो पर अपने फैसले लादने के लिए नीलम मेहरा पर दवाब डालता है और नीलम 30 साल से इच्छा ना होते हुए भी पति धर्म का पालन करते हुए कमल की हर बात को सह जाती है।





कमल मेहरा की बेटी आयशा की शादी आम भारतीय पिता की तरह उसकी मर्जी की परवाह किये बिना उच्च वर्गीय घर में करता है। उसकी बीवी नीलम अपनी बेटी को पिता की हर इच्छा पूरी करने को प्रेरित करती है। इसके अलावा कमल मेहरा अपने बेटे की शादी कर अपने व्यापार को फिर से स्टैंड करना चाहता है।




फिल्म में कहानी तब रफ्तार पकडती है जब कमल और नीलम की शादी की तीसवीं सालगिरह बनाने के लिए पूरा परिवार 10 दिन की क्रूज पार्टी पर निकल पड़ता है। इसी क्रूज पर फिल्म के अन्य किरदार फराह अली (अनुष्का शर्मा) आयशा की दोस्त सनी (फरहान अख्तर) की एंट्री होती है। सनी वही दोस्त है जिसने मेहरा परिवार को प्लूटो गिफ्ट किया था। फिल्म में फराह अली की एंट्री के साथ ही कबीर मेहरा को प्यार हो जाता है और वह फिल्म में कबीर का अंतर्मन में उठे सवालों को लेकर कंफ्यूज रहता है कि वह अपने प्यार के साथ जाएं या फिर वह अपने परिवार के आदर्शों पर चले। सुमंद्र के बीच में चल रहे क्रूज पर परिवार के बीच छुपे भावनात्मक और परिवार विरोधी  विचार खुल कर सामने आते है और इसी यात्रा में परिवार के सभी सदस्य दिल में छुपे दर्द को भुला कर एक दुसरे के काफी करीब आ जाते है। इसी यात्रा के दौरान मेहरा परिवार के सदस्यों के बीच नये लोगो की भी एंट्री होती है जिनके परिवार के साथ गहरे और प्यार भरे रिश्ते बन जाते है।




डायरेक्शन रिव्यू : रीमा कागती और जोया अख्तर ने दिल धड़कने दो फिल्म में मल्टीस्टार किरदारों के बीच पारिवारिक बंधन,प्रेम कहानी, बेवफाई और रिश्तों के बीच उत्पन्न मनोभावों के ट्विस्ट को सुलझाते हुए किरदारों के बीच बखूबी संतुलन कायम किया है। इसके अलावा जोया ने इस समुंदरी यात्रा में तुर्की, स्पेन, ट्यूनिशिया और इटली के बंदरगाहों को बड़ी ख़ूबसूरती से दिखाया है। फिल्म लग्जरी लाइफ और ब्रांडेड वस्तुओं का दिखावा करने वाले लोगो पर चोट करने में कामयाब रही है। फिल्म की कहानी के साथ न्याय करते हुए निर्देशक जोया ने बाहरी रूप से ख़ुशी जाहिर करने वाले परिवार के अंदर के दुःख को बखूबी दिखाया है जिस कारण फिल्म में बड़े घरानों के पारिवारिक कहानी होते हुए भी ऐसा प्रतीत होता है कि ये हर आम घर की कहानी है।


रीमा कागती और जोया अख्तर ने पूरी कहानी को अच्छी तरह से पिरोया है पर वह फिल्म में मनोरजन उतना नही डाल पाई जितना दर्शक उम्मीद कर रहे थे।




दिल धड़कने दो फिल्म एक्टिंग रिव्यू: फिल्म में अनिल कपूर, रणवीर सिंह, अनुष्का शर्मा और प्रियंका चोपड़ा जैसे बड़े स्टार ज्यादा होने के कारण सभी के पास अपनी पूर्ण क्षमता दिखाने का पूर्ण मौका नही था और फिल्म में सभी किरदारों की एंट्री में ही फिल्म का काफी वक़्त खराब हुआ है। फिल्म में सबसे अधिक दृश्य अनिल कपूर और शेफाली शाह के है। कमल मेहरा के किरदार में अनिल कपूर ने सबसे अच्छी और प्रभावित करने वाली एक्टिंग की है और उनका साथ शेफाली शाह ने जोरदार एक्टिंग कर दिखाया है। शेफाली ने इमोशनल दृश्यों में इतनी जान डाल दी है कि लोग सिनेमाघरों में शेफाली के साथ खुद इमोशनल हो जाते है।


रणवीर सिंह और प्रियंका चोपड़ा के फिल्म में अधिक दृश्य नही थे पर दोनों भाई-बहन के बीच इमोशनल और प्यार को दर्शाते हुए दर्शकों को हँसाने और सेंटी करने में कामयाब रहे है। प्रियंका ने फिल्म में अधिक डायलॉग नही बोले है लेकिन परिवार द्वारा नजरंदाज की गई बेटी और उपेक्षा सहने वाली पत्नी का किरदार में शानदार अभिनय किया है। अनुष्का और फरहान के लिए फिल्म में कुछ खास नही था पर वह अपने छोटे से रोल में प्रभाव छोड़ने में कामयाब रहे है।





दिल धड़कने दो फिल्म म्यूजिक रिव्यू : दिल धड़कने दो फिल्म में शंकर एहसान लॉय का संगीत है और युवाओं की नब्ज को समझते हुए फिल्म में गीत डाले है। फिल्म का टाइटल सोंग दिल धड़कने दो और गल्लां गुड़ियाँ पहले ही टॉप टेन लिस्ट में आ चूका है।




दिल धड़कने दो फिल्म को सिनेमाघरों में देखने की वजह : गर्मियों की छुट्टियां चल रही है और आप अपने पूर्ण परिवार के साथ एक पारिवारिक फिल्म देखने का प्लान बना सकते है। इसके अलावा फिल्म में बड़े स्टारकास्ट है जो यूथ के काफी फेवरेट है। ये वजह भी फिल्म देखने की बन सकती है।


फिल्म ना देखने की वजह : अनिल कपूर, रणवीर सिंह, अनुष्का शर्मा और प्रियंका चोपड़ा,फरहान अख्तर जैसे बड़े स्टार होने से अगर आपने फिल्म से अधिक रोमांस और रोमांटिक स्टोरी की उम्मीदें लगा रखी है तो भी फिल्म देखने ना जाये इसके अलावा अगर आप एक्शन मसालेदार फिल्मों की शौकीन है तो भी आप सिनेमाघरों तक ना जाएं।














दिल धड़कने दो फिल्म वीडियो

        

Comment Box

    User Opinion
    Your Name :
    E-mail :
    Comment :

Latest Movies Wallpapers