जुड़वा 2 फिल्म वॉलपेपर

जुड़वा 2 सेलिब्रिटीज

Varun Dhawan , Taapsee Pannu , Jacqueline Fernandez


जुड़वा-2 से अधिक मनोरंजन आपको पुरानी जुड़वा से मिलेगा


जुड़वा-2 मूवी शोर्ट रिव्यू


स्टार कास्ट : वरुण धवन, जैकलिन फर्नांडीज,तापसी पन्नू अनुपम खेर, विवन भटना और सलमान खान (कैमियो)


डायरेक्टर : डेविड धवन


जुड़वा-2 फिल्म में क्या अच्छा है : वरुण धवन पहली बार डबल रोल में हैं।


जुड़वा-2 फिल्म में बुरा क्या है : ओवरकॉन्फिडेंस में प्लाट लिखा गया है इसके अतिरिक्त व्हाट्सएप के इस जमाने में फिल्म के जोक्स और साजिस कमजोर लगती है।


जुड़वा-2 फिल्म क्यों देखे : फेस्टिवल इस सीजन में आप एक बार जुड़वा-2 देख सकते है। वैसे भी वरुण पहली बार डबल रोल में आएं है और वह अपने इस रोल को लेकर काफी उत्साहित है।


जुड़वा-2 फिल्म क्यों ना देखे : जुड़वा-2 फिल्म की स्टोरी कॉमेडी और परफॉरमेंस में इतना दम नही है कि इस फिल्म लो जरुर देखा जाएं।


जुड़वा-2 फिल्म की पूरी समीक्षा




जुड़वा-2 फिल्म की कहानी : 2 घंटे 29 मिनट वाली इस फिल्म की कहानी की शुरुआत तब होती है जब नायक के पिता (सचिन खेडेकर) पिता बनने वाले होते है उनकी पत्नी हॉस्पिटल में जुडवा बच्चों को जन्म देती है और वह बच्चों को देखने के लिए रास्ते में होते है। हॉस्पिटल आते वक्त वह ध्यान नही देते कि किंगपिन चार्ल्स (जाकिर हुसैन) उनका पीछा करते हुए वह हॉस्पिटल रूम तक पहुँच जाता है।


हॉस्पिटल में आकर किंगपिन चार्ल्स एक बच्चे को चोरी करके भागने में कामयाब हो जाता है। जुड़वां फार्मूले से जन्म लेने वाले दोनों बच्चे बड़े होकर राजा और प्रेम (वरुण धवन) बन जाते है। राजा मुंबई की सड़कों पर बड़ा होता है इसलिए तुर व्यक्ति बन जाता है जबकि प्रेम आराम से शानदार जीवन लंदन में जीता है।


जुड़वा-2 फिल्म की पूरी समीक्षा




राजा और उसका साइडकिक (राजपाल यादव) भगवान गणपति बप्पा के दिव्य संरक्षण के तहत अपनी ज़िंदगी जी रहे होते है तभी स्टोरी में ट्विस्ट आता है और दोनों लंदन जाते हैं। जहां राजा और प्रेम क्रमशः अलिश्का (जैकलिन फर्नांडीज़) और समारा (तापसी पन्नू ) के रूप में अपने जीवन का प्यार पूरा करते है।

क्या होता है जब गलत पहचान की वजह से कॉमेडी की झड़ी लगती है और तब क्या होता है जब राजा और प्रेम एक-दूसरे को मिलते हैं। प्रेम के माता-पिता को पता चलता है कि उनका दूसरा बच्चा जीवित है और फिल्म के अंत में क्या होता है यह जानने के लिए आपको सिनेमाघर तक जाना है।


जुड़वा-2 स्क्रिप्ट रिव्यू :
जुड़वा-2 के बारें में यह बात सभी जानतें है कि फिल्म सलमान खान की जुड़वा की आधिकारिक रीमेक है। जुड़वा-2 में बच्चे की आयु के लिए पुराने सूत्र का ही अनुसरण किया गया है। इस भाग में भी दोनों जन्म में अलग हो जाते हैं लेकिन प्रकृति और स्थितियों की वजह से एक दूसरे का सामना करते है।

नए पात्रों के परिचय और चित्रण को छोड़कर स्क्रिप्ट ने 1997 में रिलीज पुरानी जुड़वां के कन्धों पर ही सवारी की है। फिल्म की स्क्रिप्ट में अति आत्मविश्वास दिखाया गया है।


स्टार परफॉरमेंस रिव्यू :
वरुण धवन जो इस फिल्म के मुख्य अभिनेता है उन्होंने डबल रोल निभाया है और इस रोल की वजह से वह साथी कलाकारों से आगे निकलते दिख रहे है क्योकि वरुण ने इस रोल में शानदार प्रदर्शन देकर खुद को साबित किया है। रोमांस,कॉमेडी और एक्शन हर रूप में वह बेहतरीन लगे है।


जुड़वा-2 फिल्म की पूरी समीक्षा




फिल्म के दोनों किरदार अलग थे। फिल्म में हर दूसरे फ्रेम में सलमान खान की तरह व्यवहार करना पड़ता है इसके बावजूद उन्होंने आत्मविश्वास के साथ दोनों रोल को निभाया है। जैकलीन फर्नांडिस और तापसी दोनों को फिल्म में हॉटनेस और ग्लैमर के लिए रखा गया था और इस काम को दोनों ने अपने काम बाखूबी अंजाम दिया है अनुभवी कलाकारों में जैसे अनुपम खेर, अतुल परचुरे, प्रेची शाह अपनी भूमिका में औसत रहे है। राजपाल यादव ने शक्ति कपूर का स्थान लेने की बेहतरीन कोशिश की है।



डायरेक्शन और म्यूजिक रिव्यू :
डायरेक्टर डेविड धवन ने अपनी हिट फिल्म जुड़वा की स्क्रिप्ट को लेकर इस बार अपने बेटे के साथ जुड़वा-2 के रूप में कैश कराने का प्रयास किया है। डायरेक्टर ने फिल्म की स्टार कास्ट प्रमोशन और ट्रेलर को बहुत ही सुनहरे अंदाज में पेश किया है इसलिए दर्शक एक बार सिनेमाघर तक जरूर पहुंचेंगे।

उस दौर में फिल्म की कॉमेडी काफी बेहतरीन थी लेकिन आज के सोशल मीडिया के जमाने में फिल्म की कॉमेडी फीकी रह गयी है। विवन की स्मृति की वापसी को दिखाने का तरीका ऐसा लगता है जैसे उसने दक्षिण भारतीय फिल्म की सुविधा को भी शर्मशार कर दिया हो।



फिल्म में डेविड के डायरेक्शन की बात करें तो कही से नही लगता कि उन्होंने इस फिल्म को बेहद ऊंचा बनाने का प्रयास किया है। सलमान खान की कैमियो उपस्थिति भी कुछ खास नही रही है। फिल्म की अभिनेत्रियों को शो पीस से अधिक और अन्य कलाकारों के रोल को कुछ और बेहतरीन किया होता तो शायद फिल्म और उपर उठ सकती थी।



डायरेक्टर ने जुड़वा-2 को विजुअल काफी अच्छा बनाया है इसके अतिरिक्त फिल्म की एडिटिंग और गीत अच्छे रहे है। फिल्म का टन टना टन टारा और ऊंची है बिल्डिग गीत कल भी हिट थे और आज भी हिट है।


जुड़वा-2 फिल्म का जितना प्रमोशन हो रहा है वह उतनी बेहतरीन फिल्म नही है। यदि आप जुड़वा-2 की जगह जुड़वा देखते है तो आपको अधिक मनोरंजन मिलेगा।

जुड़वा 2 फिल्म वीडियो

        

Comment Box

    User Opinion
    Your Name :
    E-mail :
    Comment :

Latest Movies Wallpapers