मस्तीज़ादे फिल्म वॉलपेपर

मस्तीज़ादे सेलिब्रिटीज

Sunny Leone , Tushar Kapoor, Vir Das, Suresh Menon, Shaad Randhawa


सनी लियोन की सुंदर सेक्सी बॉडी आपको सिनेमाघर से बाहर नही जाने देगी


क्या कूल है हम 3 के एक सप्ताह बाद ही मिलाप जावेरी द्वारा लिखी एक और सेक्स कॉमेडी फिल्म मस्तीजादे रिलीज हो चुकी है। मस्तीजादे फिल्म में सेक्स कॉमेडी फिल्मों के नायक के रूप में पहचान बना चके नायक तुषार कपूर है और उनका साथ दे रहे है वीर दास। रितेश देशमुख फिल्म में कैमियो करते नजर आयेंगे। मस्तीजादे फिल्म की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इस फिल्म में सेक्स तड़का लगाने लिए बॉलीवुड और गूगल की सुपर सेक्स बम सनी लीओन को अभिनेत्री के रूप में चुना गया है।



डायरेक्टर मिलाप झवेरी ने मस्तीजादे फिल्म में बोल्डनेस का तड़का लगाने के लिए एक नही दो-दो सनी लियोन रखी है अर्थात इस फिल्म में बोल्ड सनी डबल रोल में है। मस्तीजादे फिल्म के प्रोमोज और सनी लियोन की डबल खुराक मजेदार और मस्ती को दुगाना करने और सिक्का हिलाने के दावे के साथ दर्शकों के बीच है। फिल्म आपकी उम्मीदों पर कितनी खरी उतरती है और बॉक्स ऑफिस पर कमाई करने में कितनी सफल होगी आइये इसकी समीक्षा करतें है।



मस्तीजादे फिल्म की पूरी कहानी : डबल मीनिंग डायलॉग्स से भरी सेक्स कॉमेडी फिल्म मस्तीजादे की कहानी डेब्यू कर रहे डायरेक्टर मिलाप जावेरी और मुश्ताक शेख ने मिलकर लिखी है। फिल्म की कहानी रितेश देशमुख के परिचय और मस्तीजादे के स्वयं कबूलनामे के बाद शुरू होती है। विपरीत सेक्स के प्रति खींचे जाने वाले सेक्स पागल आदित्य चोटिया (वीरदास) और सनी केले (तुषार कपूर) को विज्ञापनों में उनके अत्यंत यौन सामग्री की वजह से विज्ञापन एजेंसी के बाहर फेंक दिया जाता है जिसके बाद वह खुद की XXX नामक विज्ञापन एजेंसी शुरू करते है। आदित्य और सनी सेक्स नशा से बाहर आने के लिए अपनी सेक्स समाधान को खोजते हुए जुड़वां बहनों द्वारा चलाए जा रहा है एक पुनर्वास केंद्र में पहुंचते है।



पुनर्वास केंद्र में जाने के बाद दोनों पुरुषों को इलाज कर रही जुड़वां बहनों लैला लेले और लिली लेले (सनी लियोन) से प्यार हो जाता है। लैला लेले आधुनिकता से भरी हॉट सेक्सी सिड्यूेस करने वाली एक युवती है जबकि लिली लेले सरल मूल्यों,बात करते हुए हकलाती एक सीधी सादी लड़की है। पुनर्वास केंद्र में एक लकी ड्रा में आदित्य और सनी को लैला और लिली के साथ एक टूर पर जाने का मौका मिलता है जहाँ पर उनको पता चलता है की लिली लेले की मंगनी देशप्रेमी (शाद रंधावा) के साथ हो चुकी है।



देशप्रेमी व्हीलचेयर पर रहने वाला सामान्य किस्म का आर्मी मैन है। कहानी में इसके बाद नायकों के लिए मुसीबत का दौर और दर्शकों के लिए मनोरंजन डोज बढ़ जाता है। इस के आदित्य और सनी को ज्ञात होता है कि लिली और लैला का एक भाई सन-डास (सुरेश मेनन) है जो समलैंगिक है। कहानी में स्थितियों में और उलझन पैदा करने के लिए सन-डास में मन में सनी केले के प्रति भावनाओं को विकसित कर दिया जाता है। कहानी में आदित्य-सनी और लैला-लिली लेले के प्रेम का क्या होता है। सन-डास और सनी केले के प्यार पाने के लिए क्या-क्या करता है यह जनाने के लिए आपको सिनेमाघर तक जाना है लेकिन आपको एक बात बता दें फिल्म का अंत सेक्स ओबसेशन के समाधान के साथ होता है।



मस्तीजादे फिल्म का डायरेक्शन और स्क्रिप्ट रिव्यू : मस्ती, हे बेबी, ग्रैंड मस्ती 'क्या कूल हैं हम 3' जैसी एडल्ट कॉमेडी फिल्मों की कहानी लिखने वाले स्क्रिप्ट राइटर मिलाप झवेरी ने मस्तीजादे फिल्म को डायरेक्ट कर डायरेक्शन क्षेत्र में डेब्यू किया है। मस्तिजादे फिल्म की कहानी आधारहीन है जो फिल्म देखने आये दर्शको के लिए असहनीय हो जाता है लेकिन फिल्म वन लाइनर डबल मीनिंग चुटकुले वायरल वीडियो से मेल खाते कुछ ऐसे दृश्य डाले गए है जो फिल्म के दौरान दर्शको को सोने नही देते है।



मिलाप झवेरी की डायरेक्शन कला तो बेशक इस फिल्म में नजर नही आयी हो लेकिन उनके स्टारकास्ट का चुनाव बिलकुल सही रहा है। सनी लियोन को चुनकर और उनके शरीर सुंदर के अंग प्रदर्शन का सहारा लेकर फिल्म को बुरी तरह फ्लॉप होने से बचा लिया है। सेक्स कॉमेडी के नाम पर पानी में गिर चुके मिलाप झवेरी फिल्म बनने में दिशाहीन हो गये। फिल्म में जानवरों का प्रयोग कर हसाने की कोशिश की गयी है जो बेहद बचकानी और फिजूल लगती है।



फिल्म में एक जगह घोड़े की पूंछ ली गयी है जो वीर दास की पेंट जिप में फंस जाती है और एक दृश्य में गधे को लेकर मनोरंजन करने की कोशिश की गयी है। फिल्म में जो भद्दे जोक्स डाले गये है वो भी ऐसे नही है की उन पर पैसे खर्च कर देखा जाएं इस फिल्म का जो बेहतरीन भाग है वह यह है कि सनी लियोन के सुंदर उछलते स्तन और बिकनी सीन में मटकती बट की वजह दर्शकों के कुछ सिक्के उछलते जरुर नजर आयें है।



मस्तीजादे फिल्म की एक्टिंग समीक्षा : मस्तीजादे फिल्म में एक्टिंग प्रदर्शन की बात करें तो बॉलीवुड में अब यह रॉकेट साइंस बनता जा रहा की सनी लियोन जिस फिल्म में है कैमरे का सारा ध्यान उनकी तरफ ही रहेगा। डबल रोल में सनी लियोन वो प्रभाव नही छोड़ सकी है यह उनके और करियर दोनों के लिए दुखद बात है।



इसमें कोई शक नहीं है की सनी का खूबसूरत फिगर किसी को भी कामुकता की ओर ढकेल सकता है अगर आपको सनी का अधिक एक्सपोज और सुंदर बिकनी शरीर देखने में हिचक नही होती तो आपको उनकी एक्टिंग अच्छी लगेगी।



सनी लियोन के अलावा सेक्स कॉमेडी फिल्मों के आंख के तारे तुषार कपूर जिनकी पिछले हफ्ते एडल्ट कॉमेडी फिल्म क्या कूल है हम 3 रिलीज हुई थी वह भी इस फिल्म खराब स्क्रिप्ट के कारण एक्टिंग से संघर्ष करते ही दिखे तुषार के जोड़ीदार वीर दास को कमजोर कहानी का खमियाज एक्टिंग में भुगतना पड़ा है। तुषार कपूर और वीर दास की इस फिल्म में कॉमिक टाइमिंग कुछ हद तक सही रही है। शाद रंधावा, असरानी, जिजेल, सुरेश मेनन और रितेश देशमुख अपने अपने रोल में ठीक रहे है। इस फिल्म ने किसी अभिनेता की एक्टिंग को पूरी तरह से बर्बाद किया है तो वह बॉलीवुड के अनुभवी अभिनेता असरानी को किया है। असरानी इससे कही अधिक बेहतर आल द बेस्ट और धमाल जैसी कॉमेडी फिल्मों में लगे है।



गीत संगीत : मीट ब्रोस अन्ज्जन, आनंद राज आनंद और अमाल मालिक ने मिलकर मस्तीजादे फिल्म का संगीत तैयार किया है। वयस्क कॉमेडी सनी लियोन वाली इस फिल्म के गीत आत्मा गुद्गुदने की बजाय लिफ्ट कराने के लिए है फिल्म एक गीत जिसके बोल है स्कर्ट उठा के तूने कर दिया दिल को डायनामाइट डायनामाइट, अरे फुक फुक फकीरा न इश्क़ हुआ है ओवरनाइट, मुझे ब्लू ब्लू सपने आते हैं और टिकल करके जाते हैं ,तेरे प्यार का ही सारा मैजिक है जो मेरा रोम रोम रोमांटिक है यह गीत डबल मीनिंग गीत अरमान मालिक, अमाल मल्लिक, मीका सिंह ने गया है जो सुनने में और देखने काफी बेहतर लगता है। इस गीत को मनोज मुन्तशिर ने लिखा है।



फिल्म में डांस गीत के रूप में होर नच रखा गया है जिसे कुमार ने लिखा है जिसे ऋतू पाठक, मीट ब्रोस अन्ज्जन ने गाया है। हो सॉकेट में तेरे ये प्लग-पिन मेरे , तू चार्ज करदे मेरा दिल शाम सवेरे जैसे शरारती लाइनों से सजा यह गीत भी एक बार सुना जा सकता है यह आपको 2 से 3 सुनने में बोर नही करेगा। फिल्म का सबसे आकर्षक और मस्तीभरा गीत अब मुझपे है के किस को क्या दूँ, देखेगा राजा ट्रेलर के पिक्चर दिखा दूँ है इस गीत को नकाश अजीज और नेहा कक्कड़ ने गाया है तथा इस गीत की लाइनें आनंद राज आनंद ने लिखी है।



बेनी दयाल और मीट ब्रोस अन्ज्जन द्वारा तैयार गीत कमीना है दिल कहता है बंद कमरे में तू आके मिल कोई खास नही है इसे बोल कुमार ने ही लिखे है। फिल्म का टाइटल सोंग मस्तिजादे फिल्म बॉलीवुड फिल्मों और उनके डायलॉग्स पर समर्पित है। ओह बसंती.. कुत्तो के आगे ही नाचना बोल से शुरू होने वाला यह गीत बेनी दयाल और मीट ब्रोस ने गाया है और इसके बोल कुमार ने लिखे है इस गीत में रितेश देशमुख भी नजर आयें है और यह सुनने में कोई खास नही है।



क्यों देखें : सनी लियोन की सुंदर कामुक बॉडी इस फिल्म को देखने का एकमात्र कारण है।


फिल्म क्यों ना देखें : सेक्स चुटकुलों और सेक्स कॉमेडी के नाम पर लोगो को मुर्ख बनाया गया है।














मस्तीज़ादे फिल्म वीडियो

        

Comment Box

    User Opinion
    Your Name :
    E-mail :
    Comment :

Latest Movies Wallpapers