पैडमैन फिल्म वॉलपेपर

पैडमैन सेलिब्रिटीज

Akshay Kumar , Radhika Apte , Sonam Kapoor


अक्षय कुमार की संदेश देने वाली एक बेहतरीन मनोरंजक मूवी


स्टार कास्ट : अक्षय कुमार, सोनम कपूर, राधिका आपटे


डायरेक्टर : आर बाल्की


पैडमैन मूवी में क्या अच्छा है : अक्षय कुमार और उनकी हीरो वाली उपस्थिति इस फिल्म के विषय को लोकप्रिय और गंभीर बनाती है इसके अतरिक्त सोनम कपूर का छोटी कैमियो को बेहतरीन ढंग से फिट किया गया है।


पैडमैन मूवी में क्या बुरा है : फिल्म वैसे तो वनटाइम देखने वाली है लेकिन फिल्म में कुछ चीजें आसानी और जल्दी हो जाती है।


फिल्म क्यों नही देखे : यह बायोपिक फिल्म औरतो की पीरियड समस्या की तरफ इशारा करती है और कुछ पुरुष ऐसी फिल्म से बोर हो सकते है।


फिल्म क्यों देखे : यह फिल्म हर महिला को एक बार अवश्य देखनी चाहिए इसके अतरिक्त फिल्म के विषय को बहुत ही अच्छे तरीके से प्रस्तुत किया गया है।


पैडमैन फिल्म की पूरी कहानी : पैडमैन फिल्म की कहानी को एक लाइन में सुनाया जा सकता है लेकिन इस फिल्म की प्रत्येक घटना से जुड़ने के लिए हर किसी के साथ जुड़ना पड़ता है। फिल्म की शुरुआत के मैरिड कपल लक्ष्मीकांत चौहान (अक्षय कुमार) अपनी पत्नी गायत्री (राधिका आप्टे) के प्यार से होती है। दोनों एक दुसरे को बहुत प्यार करते है। लक्ष्मीकांत और गायत्री की रोमांटिक केमिस्ट्री को आज से तेरी गाने के माध्यम से दिखाया गया है।


फिल्म की कहानी आगे बढती है और लक्ष्मीकांत को पत्नी की पीरियड समस्या का पता चलता है और वह अपनी पत्नी को ब्रांडेड पैड प्रयोग करने के लिए कहता है लेकिन उसका खर्च गायत्री को अधिक लगता है जिसके कारण वह असुरक्षित पैड का प्रयोग शुरू करती है।

 
लक्ष्मीकांत चौहान रूढ़िवादी सोच के बीच अपनी नई सोच पैदा करके सैनेटरी नैपकीन बनाने का विचार बनाता है। कड़े प्रयास के बाद वह असफल हो जाता है और इसके बाद उसकी पत्नी नाराज होकर अपने घर वापिस चली जाती है। लक्ष्मी अपनी यात्रा की कई विफलताओं के बाद सफलता की ओर बढ़ता है और अंत में सस्ते सैनेटरी नैपकीन बनाने में सफल हो जाता है।


स्क्रिप्ट रिव्यू : फिल्म पैड मैन की पटकथा बहुत कसी हुई है और इसलिए मनोरंजन करने में सफल हुई है। डायरेक्टर आर बाल्की ने इसकी स्टोरी खुद लिखी है और उसका प्रभाव पूरी तरह से स्क्रिप्ट पर दीखता है। अक्षय का किरदार जब स्टोर दुकान से पैड खरीदने जाता है तो उसका प्राइस सुन कर वह बोल उठता है कि आप लोग "चरस गांजा बेच रहे हो क्या ऐसे फिल्म में कई पल आते है जिनको बहुत सही ढंग से चित्रित किया गया है।


बाल्की ने पैड मशीन बनाने की प्रक्रिया आश्चर्यजनक रूप में प्रदर्शित किया है इसके अतिरिक्त अंतिम भाषण फिल्म का सर्वश्रेष्ठ सीन है। निर्माता अमिताभ बच्चन को सुपरहीरो के तौर पर संबोधित करते हुए फिल्म की शुरुआत करते हैं लेकिन उनका कैमियो इतना प्रभावशाली नही रहा है। कन्ज्यूमर फीडबैक वाला सीन भी काई अच्छा बन पड़ा है। वर्ष 2001 के आधार पर, कुछ दूरदराज के इलाकों में सेट लगाया गया है और यह आर बाल्की के होमवर्क को दिखाता है।


स्टार प्रदर्शन : अक्षय कुमार एक बार फिर से एक शख्स के रूप में दिखाई दिए है जो अपने परिवार के लिए काम करने के लिए अपने अंदर कामयाबी की भूख लिए हुआ है। निश्चित ही यह अक्षय का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नही है लेकिन इसे उनकी सर्वश्रेष्ठ फिल्म में से एक है।


राधिका आप्टे को इस रोल में बहुत आँसू मिल गए है। वह प्रत्येक सीन में लगभग रोती हुई दिखाई देती है। उनके किरदार को और बेहतरीन लिखा जा सकता था लेकिन उनको जितना रोल दिया गया था उसे उन्होंने बहुत बेहतरीन ढंग से लिखा है।


सोनम कपूर की बात करें तो उनका कैमियों अक्षय के साथ केमिस्ट्री में स्पार्क्स के साथ साथ काफी बोल्ड था।


डायरेक्शन और म्यूजिक रिव्यू : डायरेक्टर ने इस कैमियों को इंडिया के मेन्सट्रुअल मैन अरुणाचलम मुरुगनाथम से प्रेरित है और स्टोरी को ट्विंकल खन्ना की किताब द लीजेंड ऑफ लक्ष्मी प्रसाद से लिया गया है आर। बाल्की का अपनी फिल्मों के लिए खुद स्टोरी लिखने की आदत इस फिल्म के लिए काफी फायदेमंद साबित हुई है। कहानी को इसके संवेदनशील विषय को बाल्की  ने काफी सुंदर ढंग से पिरोयो है।


अरुणाचलन मुरुगनाथम की स्टोरी मध्य प्रदेश के के माहेश्वर में शुरू होती है। डायरेक्टर ने फिल्म की कहानी की सच्चाई को बना कर रखा है।


मूवी के गीत संगीत की बात करें तो अरिजीत की आवाज में आज से तेरी काफी अच्छा बन गया है और इस गीत के अतिरिक्त फिल्म के बाकी गाने कुछ खास नही है।


मनोरंजन के साथ-साथ संदेश-संचालित प्लॉट वाली यह एक दुलर्भ मूवी है इसलिए हर किसी को इस फिल्म का आनंद लेना चाहिए।
 

पैडमैन फिल्म वीडियो

  

Comment Box

    User Opinion
    Your Name :
    E-mail :
    Comment :

Latest Movies Wallpapers